Thursday, 8 February 2018

CLASS V HINDI TERM II QUESTION BANK

केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 2, वायु सेना स्थल, पुणे – 32
प्रश्न संच (2017-18)
विषय-हिन्दी                                       कक्षा-पाँचवी

I   




  अ पठित गद्यांश
                                                       

1.    दिल्‍ली का लाल किला का यह नाम इसलिए पड़ा क्‍योंकि यह लाल पत्‍थरों से बना है और यह दुनिया के सर्वाधिक प्रभावशाली भव्‍य महलों में से एक है। भारत का इतिहास भी इस किले के साथ काफी नजदीकी से जुड़ा है। यहीं से ब्रिटिश व्‍यापारियों ने अंतिम मुगल शासक, बहादुर शाह जफर को पद से हटाया था और तीन शताब्दियों से चले आ रहे मुगल शासन का अंत हुआ था। यहीं के प्राचीर से भारत के प्रथम प्रधानमंत्री, पंडित जवाहर लाल नेहरू ने घोषणा की थी कि अब भारत उपनिवेशी राज से स्‍वतंत्र है। मुगल शासक, शाहजहां ने 11 वर्ष तक आगरा से शासन करने के बाद तय किया कि राजधानी को दिल्‍ली लाया जाए और यहां 1618 में लाल किले की नींव रखी गई। वर्ष 1647 में इसके उद्घाटन के बाद महल के मुख्‍य कक्ष भारी पर्दों से सजाए गए और चीन से रेशम और टर्की से मखमल ला कर इसकी सजावट की गई। लगभग डेढ़ मील के दायरे में यह किला अनियमित अष्‍टभुजाकार आकार में बना है और इसके दो प्रवेश द्वार हैं, लाहौर और दिल्‍ली गेट।
ü  दिल्ली के लाल किले का नाम लाल किला क्यों पड़ा?
ü  भारत के इतिहास से लाल किले का क्या संबंध है?
ü  लाल किले के प्राचीर से किसने और क्या घोषणा की थी ?
ü  मुगल शासक शाहजहां के शासन काल में लाल किले में क्या बदलाव लाया गया?
ü  वर्ष 1647 में लाल किले के उद्घाटन के बाद क्या हुआ ?
ü  उद्घाटनका अपने वाक्यों में प्रयोग करो।
ü  इस किले के कितने प्रवेश द्वार है ? उनके नाम भी बताओ |
ü  विलोम शब्द लिखो: नियमित     परतंत्र
ü  एक शब्द में बताओ: आठ भुजाओं वाला –
ü  लाल किले के लिए कोई दो विशेषण अनुच्छेद से ढूँढकर लिखे |
2.    भारत सरकार ने इस साल एक हजार और पाँच सौ के नोटो को बंद करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया । यह निर्णय देश से भ्रष्टाचार खतम करने के लिए लिया गया है । इस निर्णय की वजह से कुछ लोगों ने इसका स्वागत किया है किन्तु इस निर्णय से बहुत से लोगो को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । इस साल के दीपावली के त्योहार में लक्ष्मी पूजन के समय इन्हीं नोटों की पूजा की गई । इन्ही नोटों से कई लोगों ने ज़ेवर, कारें, कपड़ें, पटाखे , मिठाइयाँ आदि खरीदे थे । किन्तु जैसे ही इन नोटों को बंद किए जाने का निर्णय लिया गया कई लोगों ने इन्हीं नोटों का अपमान करके इन्हें कूड़ेदान में फेंक दिया, गंगा में बहा दिया । किन्तु इस निर्णय के कारण एक फ़ायदा यह भी हुआ की काला धन बाहर आने लगा ।
ü  भारत सरकार ने इस साल कौन-सा महत्वपूर्ण निर्णय लिया ?
ü  भारत सरकार ने यह निर्णय क्यों लिया ?
ü  इस निर्णय के कारण लोगों पर क्या परिणाम हुआ ? कोई भी एक कारण बताओं
ü  इन नोटों की पूजा हमने कौन से त्योहार में की ?
ü  इन नोटों से लोगों ने क्या क्या खरीदा  ? सिर्फ़ नाम लिखिए ।
ü  लोगों ने इन नोटों का अपमान कैसे किया ?
ü  इस निर्णय के कारण क्या फ़ायदा हुआ ?
ü  अनुच्छेद में से सर्वनाम ढूंढकर लिखिए
ü  अनुच्छेद में से विशेषण ढूंढकर शब्दों से पहले लिखिए:   ______सरकार     _____ धन
ü  उपरोक्त अनुच्छेद को योग्य शीर्षक दीजिये |
3.    जल एक जीवनदायी वस्तु है। इसका महत्व दिनों दिन बढ़ता जा रहा है क्योंकि इसकी उपलब्धता घटती जा रही है। खासकर पीने योग्य मीठे जल की मात्रा तो बहुत कम हो गई है। पृथ्वी पर जल की जितनी मात्रा है उसका एक प्रतिशत ही हमारे उपयोग के लायक है फिर भी लोग जल का अपव्यय करते है। यदि जल की उपलब्धता बनाए रखने में हम नाकाम रहे तो एक दिन जल की एक-एक बूंद के लिए हम तरस जायेंगे। हमें जल का महत्व समझ कर इसका सावधानी पूर्वक उपयोग करना चाहिए।
ü  जल कैसी वस्तु है?                     जीवनरक्षक       जीवनदायी       जीवनसाथी         
ü  जल का महत्व क्यों बढ़ता जा रहा है?  यह ज्यादा है।      इसकी उपलब्धता घटती जा रही है ।           
इसकी ज़रूरत नहीं है।
ü  कौन से जल की मात्रा बहुत कम हो रही है ? पीने योग्य मीठे जल की /खारे जल की /        कपड़े धोने के जल की
ü  पृथ्वी पर उपलब्ध जल की कितनी मात्रा हमारे उपयोग के लायक है ? दस प्रतिशत    एक प्रतिशत       पचास प्रतिशत
ü  हमें जल का प्रयोग किस प्रकार करना चाहिए ? असावधानीपूर्वक       समझदारी से       सावधानीपूर्वक            
ü  दो विलोम शब्द चुनकर लिखोघटता x              व्यय x         
ü  पर्यायवाची लिखो : जल   
ü  विशेषण शब्द के नीचे रेखा खींचो |          मीठा जल             खट्टे फल
ü  पृथ्वी  शब्द का प्रयोग करते हुए वाक्य बनाओ |
ü  इस अनुच्छेद के लिए कोई उचित शीर्षक लिखें।
4.    हाथी एक विशाल और ताकतवर जानवर है। यह ज्यादातर जंगलों में झूंड में रहता है | कुछ लोग इससे  धन कमाने के लिए सर्कस, चिड़ियाघरों और अपने घरों में पालतु जानवर की तरह रखते हैं। यह आमतौर पर ग्रे (स्लेटी) रंग का पाया जाता है । इसका विशाल शरीर होता है, जिसके खम्भे की तरह चार पैर, बड़े पंखों की तरह दो कान, एक लम्बी सूंड़, एक छोटी पूँछ और दो छोटी आँखें होती हैं। एक नर हाथी के दो लम्बे सफेद दाँत होते हैं, जिन्हें टस्क (हाथी का दाँत) कहा जाता है । शुद्ध शाकाहारी जंगली जानवर है| यह मुलायम हरी घास की पत्तियाँ, पौधे, भूसा, जंगली फल, केला, गन्ना, गेहूँ आदि खा सकता है। यह बहुत से कार्यों को करता है; जैसे- सवारी को घुमाना, भारी सामान को उठाकर ले जाना आदि। इसलिए यह मनुष्य के लिए बहुत उपयोगी जानवर है और मानवता के लिए अच्छा दोस्त भी साबित हो सकता है | इसकी जीवन अवधि बहुत ही लम्बी होती है, यह लगभग सौ साल से अधिक जीवित रहता है |
ü  हाथी कैसा जानवर है और यह कहाँ रहता है ?
ü  हाथी को पालतू जानवर बनाकर कैसे रखते है ?
ü  हाथी का शरीर कैसा होता है ?
ü  हाथी को क्या-क्या खाना पसंद है ?
ü  वाक्य पूरे करो:
o   हाथी का रंग ........................ होता है |
o   हाथी ................. के लिए अच्छा दोस्त साबित हो सकता है |
ü  सही या गलत का चिन्ह लगाओ :
o   नर हाथी के दो सफ़ेद और लम्बे दाँत होते है जिसे टस्क कहते है |    (.................)     
o   हाथी बड़े शरीर के कारण कुछ भी काम नहीं करता है |                                             (.................)
o   हाथी सौ साल से अधिक सालों तक जिन्दा रहता है |                                 (.................)
o   हाथी हमारे लिए उपयोगी जानवर नहीं है |                                                        (.................)
ü  विलोम ढूंढों : अशुद्ध x      लम्बा x
ü  हाथी के लिए दो विशेषण शब्द ढूँढो :  .....................,         ................................
ü  इस गद्यांश के लिए अच्छा सा शीर्षक दो:    ..................................................................
5.    हरी डाल पर लगी हुई थी, नन्ही सुंदर एक कली |
तितली उससे आकर बोली, तुम लगती हो बड़ी भली |
      अब जागो तुम आँखें खोलो, और हमारे संग खेलो |  
      फैले सुंदर महक तुम्हारी, महके सारी गली-गली |
      कली छिटककर खिली रंगीली, तुरंत खेल की सुनकर बात |
      साथ हवा के लगी भागने, तितली छूने उसे चली |

ü  हरी डाल पर क्या लगा हुआ था ?
ü  तितली ने आकर कली से क्या कहा ?
ü  कली की सुंदर महक कहाँ कहाँ फैलेगी ?
ü  कौनसी बात सुनकर कली छिटककर खिल गयी ?
ü  जब कली हवा में भागने लगी तो तितली ने क्या किया ?
ü  पर्यायवाची शब्द लिखो:      हवा                           आँख
ü  विपरीत शब्द लिखो:         सोना X                                                                 कुरूप  X
ü  अर्थ लिखो :               संग                           महक
ü  तुक वाले शब्द लिखो: कली                           बोलो
ü  इस कविता को सुन्दर सा शीर्षक दो |

II    पठित अनुच्छेद
1.         बिशन के लिए आगे निकाल भागने का रास्ता नहीं था । अगर वह सड़क से जाता तो शिकारी को साफ़ दिखाई दे जाता । इसलिए उसने खेतों के छोटे रास्ते से जाना तय किया । खेतों से आगे के रास्ते में काँटेदार झाड़ियाँ थी । बिशन उसी रास्ते पर घुटनों के बल चलने लगा । बहुत संभलकर चलने पर भी उसके हाथ पाँव पर काँटों के बहुत से खरोंचें उभर आई । खरोंचो से खून भी निकलने लगा । उसकी कमीज़ की एक आस्तीन भी फट गई । वह जानता था कि कमीज़ फटने पर उसे माँ से डाँट खानी पड़ेगी ।पर बिशन को इस बात का संतोष था कि वह अब तक तीतर की जान बचाने में कामयाब रहा ।
ü  अगर वह सड़क से जाता तो क्या होता  ?
ü  बिशन ने क्या तय किया  ?
ü  खेतों से आगे के रास्ते में क्या था ?
ü  बहुत सॅभालने पर भी क्या हुआ ?
ü  बिशन की कमीज़ का क्या हाल हुआ ?
ü  सर्वनामों के दो उदहारण अनुच्छेद में से ढूँढकर लिखिए ?
ü  कमीज़ के फटने पर क्या होगा ?
ü  दिये गए शब्दों में से विशेषण और विशेष्य अलग अलग लिखिए: काँटेदार झाड़ियाँ
ü  बिशन को किस बात का संतोष था ?
ü  अनुच्छेद को योग्य शीर्षक दीजिए ।

2.            बैठक और भोजन-कक्ष के बीच, कम हवादार अँधेरे गलियारे की बंद-सी कोठरी में स्वामीनाथन की दादी अपने सारे समान के साथ रहती थी | उनका सामान था – पाँच दरियों, तीन चादरों, पाँच तकियों वाला भारी-भरकम बिस्तर, पटसन के रेशे का बना एक वर्गाकार बक्सा और लकड़ी का एक बक्सा जिसमे ताँबे के सिक्के, इलायची, लौंग और सुपारी पड़े रहते थे | रात के भोजन के बाद स्वमिनाथान दादी के पास उनकी गोद में सिर रखे लौंग , इलायची की गंध भरे वातावरण में अपने को बहुत प्रसन्न और सुरक्षित महसूस कर रहा था|
ü  स्वामीनाथन की दादी कहाँ रहती थी ?
ü  दादी के पास कितनी दरियाँ, चादरें और तकियों वाला बिस्तर था ?
ü  दादी के सामान में दो कौन-कौन से बक्से थे ?
ü  दादी लकड़ी के बक्से में क्या-क्या चीजें रखती थी
ü  स्वामीनाथन दादी के साथ कैसे महसूस करता था  ?
ü  स्वामीनाथन दादी के पास कब जाता था ?
ü  विलोम शब्द लिखो : अप्रसन्न  x ----------------        असुरक्षित x  ---------------
ü  वाक्य बनाओ: वातावरण –
ü  विशेषण और विशेष्य अलग करो: बंद-सी कोठरी, भारी-भरकम बिस्तर
ü  वचन बदलो :  बक्से -          गलियारा -

3.            गुरु एक थे और था एक चेला,                         कहा बढ़के ग्वालिन ने महाराज पंडित,
चले घूमने पास में न था धेला |                        पधारे भले हो यहाँ आज पंडित |
चले, चलते-चलते मिली एक नगरी,                       यह अंधेर नगरी हा अनबूझ राजा,
चमाचम थी सड़के,चमाचम थी डगरी |                    टके सेर भाजी, टके सेर खाजा |

मिली एक ग्वालिन,धरे शीश गगरी,                      गुरु ने कहा-जान देना नहीं है,
गुरु ने कहा तेज ग्वालिन न भग री |                    मुसीबत मुझे मोल लेना नहीं है |
बता कौन नगरी, बता कौन राजा,                       न जाने की अंधेर हो कौन छन में ?
कि जिसके सुयश का यहाँ बजता बाजा |                 यहाँ ठीक रहना समझता न मन में |
ü  गुरु और चेला के पास क्या नहीं था ?
ü  उस नगरी की सड़के और डगरी कैसी थी ?
ü  उन दोनों को रास्ते में कौन मिली ?
ü  ग्वालिन ने शीश पर क्या धरा हुआ था ?
ü  ग्वालिन ने नगरी के बारे में क्या बताया ?
ü  ऊपर लिखी पंक्तियाँ किस कविता से ली गयी हैं ?
ü  इस कविता के कवि का नाम बताओ ?
ü  उस नगरी में भाजी और खाजा कैसे मिलता था ?
ü  लिंग बदलो: महारानी -  पंडिताईन-
ü  अंधेर नगरी में बारे में जानने के बाद गुरूजी ने क्या किया ?

4.  अगले दिन सुबह तड़के तैयार होकर जवाहर बाहर आ गए |आकाश में रात्रि की कालिमा पर प्रकाश की लालिमा फैलती जा रही थी | तिब्बती पठार का दृश्य निराला था |दूर-दूर तक वनस्पति-रहित उजाड़ चट्टानी इलाका दिखाई दे रहा था | उदास, फीके, बर्फ से ढके चट्टानी पहाड़ सुबह की पहली किरणों का स्पर्श पाकर ताज की भांति चमक उठे |दूर से छोटे-छोटे ग्लेशियर ऐसे लगते मानो स्वागत करने के लिए पास सरकते आ रहे हों |सर्द हवा के झोंके हड्डियों तक ठंडक पहुँचा रहे थे | जवाहर ने हथेलियाँ आपस में रगड़कर गरम कीं और कमर की रस्सी लपेट कर चलने को तैयार को गया |
ü  अगले दिन जवाहर कब और कैसे बाहर आये ?            
ü  दूर-दूर तक चट्टानी इलाका कैसा दिखाई दे रहा था ?
ü  सुबह की पहली किरणों का स्पर्श पाकर कौनसे पहाड़ किस प्रकार चमक उठे ?
ü  जवाहर ने पहाड़ पर चढ़ने की तैयारियाँ कैसे की ?
ü  रिक्त स्थान भरो:
रात्रि की -----------पर प्रकाश की -------------फैलती जा रही थी |
सर्द हवा के झोंके ------------- तक ठंडक पहुँचा रहे थे |
ü  प्रत्यय जोड़कर नया शब्द बनाओ: चट्टान + ई = ---------------    तिब्बत + ई = -------------
ü  उपयुक्त विशेषण से खाली स्थान भरो: -------------------- पहाड़      ----------------- ग्लेशियर
ü  युग्म-चिन्ह वाले शब्द ढूँढकर लिखे ( कोई दो )
ü  यहाँ गद्य किस पाठ से लिया गया है ?

5.            छोटी सी हमारी नदी टेढ़ी-मेढ़ी धार,
गर्मियों में घुटने भर भिगो कर जाते पार |
पार जाते ढोर-डंगर, बैल-गाड़ी चालू,
ऊँचे है किनारे इसके, पाट इसका ढालू |
पेटे में झकाझक बालू कीचड़ का न नाम,
काँस फूले एक पार उजले जैसे घाम |
दिन भर किचपिच-किचपिच करती मैना डार-डार,
रातों को हुआँ- हुआँ कर उठते सियार |
अमराई दूजे किनारे और ताड़ – वन,
छाँहों –छाँहों बाम्हन टोला बसा है सघन |
कच्चे – बच्चे धार कछारों पर उछल नहा लें,
गमछों – गमछों पानी भर –भर अंग - अंग पर ढालें |
कभी – कभी वे साँझ – सकारे निबटा  कर नहाना
ü  इस कविता के रचयिता कौन है ?
ü  नदी और उसकी धार कैसी है ?
ü  नदी को कौन-कौन पार जाते हैं ?
ü  इनके किनारे और पाट कैसा है ?
ü  नदी के किनारे कौन कौनसे पेड़ लगे है ?
ü  दिन भर मैना डाल- डाल पर और रात में सियार कैसी आवाजें निकालते है ?
ü  नदी किनारे छोटे छोटे बच्चे क्या करते है ?
ü  अर्थ बताओ: साँझ -   घाम –
ü  शुद्ध रूप लिखो: छाँहों =    बाम्हन =
ü  वाक्य बनाओ : गर्मी -

III  प्रश्न-उत्तर
v   एक अंक के प्रश्न                                       
1.   कोको के माता पिता कहाँ गए थे ?
2.   कोको की माँ ने कोको के लिए नाश्ते में क्या बनाकर रखा था ?
3.         तिन सू कोको के घर क्यों आया था ?
4.   कोको ने नीनी और मिमि के आने पर चावल की रोटियाँ कहाँ-कहाँ पर छिपाई ?
5.   घूमते घूमते गुरु और चेला कहाँ पहुँचे ?
6.   बरसात होने से क्या हुआ ?
7.   अंत में फांसी पर कौन चढा ?
8.   गुरु और चेला कविता के रचयिता कौन है ?
9.   स्वामी की दादी स्वामी को कौन सी कहानी सुनाती थी ?
10.  स्वामीनाथन अपनी दादी को किसके बारे में बता रहा था  ?
11.  वो इधर से निकला उधर चला गया- यह बात कौन किसे बता रहा होगा ?
12.  बाघ और बाघिन क्या काम करता है ?
13.  बाघ आया उस रात कविता के रचयिता कौन है ?
14.  बिशन किसे बचाना चाहता था ?
15.  कर्नल दत्ता ने बिशन से घायल तीतर को जल्दी ठीक करने के लिए क्या पिलाने को कहा ?
16.  शिकारियों के कर्नल दत्ता से क्या शिकायत की ?
17.  नलों में पानी कम आने पर लोग क्या करते हैं ?
18.  गर्मियों में नदी को आसानी से पार कर लिया जाता है । क्यों ?
19.  बच्चे नदी के किनारे क्या क्या करते है ?
20.  औरतें नदी के किनारे क्या क्या करती है ?
21.  छोटी सी हमारी नदी इस कविता के रचयिता कौन है ?
22.  जवाहरलाल और उनके साथी कौन थे और वे किस यात्रा पर निकले थे ?
23.  किशन कौन था ? वह क्या काम कर रहा था ?
24.  मातायन से अमरनाथ की दूरी कितनी है ?
25.  जवाहरलाल ने पहाड़ पर चढ़ने की तैयारियाँ कैसे की ?

v    दो अंक के प्रश्न
1.   कोको ने तिन सू के लाये फूलों को लेने से इंकार क्यों कर दिया ?
2.   चावल से बनने वाली कसी भी चार व्यंजनों के नाम लिखिए ?
3.   उ बा तुन कौन थे ? वे कोको के घर क्यों आए थे?
4.   ग्वालिन ने नगर के बारे में क्या बताया ?
5.   अंधेर नगरी के बारे में जानने के बाद गुरूजी ने क्या किया ?
6.   राजा ने फांसी देने के लए कस कस को बुलाया ?
7.   अंधेर नगरी की प्रजा राजा के मरने पर खुश क्यों हुई ?
8.   स्वामीनाथन की दादी के पास कौन कौन सा सामान था ?
9.   दादी ने बुआ को महामूर्ख क्यों कहा ?
10.  स्वामीनाथन राजम को बहुत बहादूर क्यों मानता था ?
11.     बच्चों के लए काम करने का क्या अर्थ है ?
12.  बालक अपने बाबा को कस बात के लए मना कर रहा था और क्यों ?  
13.  शब्दों के भाव क वता की पंक्ति द्वारा बताइये:  आश्चर्य  डर
14.     बिशन घायल तीतर को क्यों बचाना चाहता था ?
15.     बिशन कतने साल का था ? वह कर्नल दत्ता के फार्म हाउस क्यों जाता था ?
16.  शकारी तीतरों का शकार क्यों करते थे ?
17.  कर्नल दत्ता और उनकी पत्नी ने तीतर को बचाने इ लए क्या कया ?
18.  पानी की कमी का मुख्य कारण क्या है ?
19.  गर्मी के मौसम में पानी की क्या स्थिति होती है ?
20.  धरती को गुल्लक क्यों कहा गया है ?
21.  नदी के दोनों कनारों का दृश्य कैसा है ?
22.  आषाढ़ आने के बाद नदी के रूप में क्या परिवर्तन आता है और क्यों ?
23.   जवाहरलाल और उनके सा थयों को रास्ते में कन- कन परेशानियों का सामना करना पड़ा ?
24.  तिब्बती पठार का दृश्य कैसा था ? वर्णन करो?
25.  जवाहरलाल को अमरनाथ का सफ़र अधूरा क्यों छोड़ना पड़ा ?
IV   व्याकरण
1.   मुहावरों के अर्थ लिखो: पेट में चूहे दौड़ना, बाल-बाल बचना, आँखों में धूल झोंकना, जान मुसीबत में होना, आँख लगना, घाट-घाट का पानी पीना                         
2.   विलोम शब्द लिखो:  खुशबूदार, सुयश, बदकिस्मती, स्वामी, उपयोग, मनपसंद, बचत, पंडित, डरपोक,
3.   दान और ई प्रत्यय से नए शब्द बनाओ (कोई पाँच)
4.   दुर् और निर् उपसर्ग लगाकर नए शब्द बनाओ (कोई पाँच)
5.   सही शब्द चुनकर लिखे :
v उड़ते हुए पक्षियों की ________ सुनकर में घबरा गया | (फड़फड़ाहट / घरघराहट )
v यह तालाब पानी से _______ भरा हुआ है | ( लबालब / छमाछम )
v खेल का मैदान लोगों से _________ भरा हुआ था | (तड़ातड़ / खचाखच )
v नींद में छोटी बहन की ___________ सुनकर मैं जग गयी | ( बड़बड़ाहट / थरथराहट )
v गिरने के कारण उसकी चाल में कुछ _________ आ गयी थी | ( परपराहट / लड़खड़ाहट )
6.   अनेक के लिए एक शब्द:
फाँसी पर चढाने वाला आदमी अख़बार में समाचार लिखने वाला - हवाई जहाज चलाने वाला जो परीक्षा की कॉपी जाँचता हो छोटे जानवर या पक्षी को रखने की जगह स्थान जहाँ से पानी मिलता है –व्यवस्था करने वाला -    
7.   नीचे दिए शब्दों को वर्णमाला क्रम से लगाए : पथरीला   तीतर   घाटी  आस्तीन   पगडंडी   गुल्लक  धरती
8.   लिंग पहचानो:   खर्राटा  दरी  बिजली  बक्सा  बाज़ार  झाड़ी
9.   उचित विशेष्य लिखो: बर्फ़ीली   कड़वा -   सुरीली –   पुरानी
10.  पर्यायवाची शब्द लिखो:  भुक्खड़  खूँखार  समतल  गगरी  कोष       दौर  शीश  अनबूझ
11.  वाक्य में प्रयोग करो:  बचत, न्यौता, बेहद, वातावरण, हाट, उत्सव  
12.  क्रिया वाले शब्द पहचानो: कमला बाज़ार से दवाई लेने गयी | राकेश ने अपने मित्र की पढाई में सहायता की | मुझे जादू का खेल देखना अच्छा लगता है | आज रात को बहुत तेज़ बारिश होगी | क्या तुम अपनी पुस्तक राम को दोगे ?
13.  क्रिया विशेषण वाले शब्द पहचानो: मेज़ के ऊपर एक पुस्तक रखी थी | उसने गुस्से में जोर से आवाज़ लगाई | नारियल हवा के झोंके से धम्म से पेड़ से गिरा| सलमा कक्षा में धीरे से बोली| दोनों मित्र हँसते हुए चल रहे थे|    
14.  खाली स्थान में सर्वनाम भरो : राहुल, ______ घर कहाँ पर है ? माँ ने _______ याद दिलाया कि आज घर पर _____ मेहमान आने वाले है | मधुरा ने ________ भाई से कहा कि ______ रात को कब तक आएगा |
15.  वचन बदलो: हथेली, सितारा, कविता, आँख , सड़क, चूड़ी   
16.  लिंग बदलो:  कवि, बाघ, शिक्षक, पुरुष, भाई, बाबा, ग्वाला, पंडित, महाराज
17.  नीचे लखे शब्दों को सही क्रम में लखकर सही वाक्य बनाओ:
v  मेरी / खुश / की / बहन / सुनकर / गयी / पिकनिक / जाने / बात / हो
v  और / समीर / परीक्षा / मिलकर / की / ने / दिनों / कई / दिनेश / के / पढाई / में
v  पढने / हम / से / आये / के / पुस्तकें / सारी / कल / दुकान / लेकर / बहुत / लिए
18.  शब्दों के अर्थ बताओ- अनबूझ खता खूँखार बेवकूफ ऊलजलूल खामोशी रौबदार ढ़ोर-डंगर झकाझक 
19.  दिये गए शब्दों में से विशेषण और विशेष्य को अलग अलग करके लिखिए:  कल्पना   खूँखार डाकू   सीढ़ीनुमा खेत    कीटनाशक दवा   रूखे स्वर
20.  इस वाक्य को पूरा करें :
वह इतना तेज़ चल रहा था मानो – रात में चमकते तारे ऐसे दिख रहे थे
21.  दिये गए शब्दों के तुकांत शब्द लिखिए: चालू  उतराती  रोला  वन   चमकती  सज़ा  चेला  रेती   नहाना
22.  इन विराम चिन्हों को सही स्थान पर लगाये ( ? ,
23.  योजक शब्द ( मगर, और, क्योंकि, परन्तु, यदि.....तो )
v  राम तो आया | श्याम नहीं आया |
v  वह स्कूल नहीं आ सकता | उसकी तबीयत ख़राब थी |
v  हम घर तक चल कर जायेंगे | हम देर से पहुँचेंगे |
v  सुरेश ने बहुत कोशिश किया | वह सफल न हो सका |
v  शिकारी ने शेर का शिकार किया | शिकारी ने हिरन का शिकार किया |
24.  जातिवाचक और व्यक्तिवाचक संज्ञा पहचानकर लिखो:
सीता बाज़ार से जाकर गुलाब के फूल ले आई |
महेश शिवजी के मंदिर पूजा करने गया |
आज सुनील के जन्मदिन पर चॉकलेट का केक मँगवाया |
25.  काल बताओ –
कल रात को बहुत जोर से आँधी आई थी |
सविता छुट्टी के दिन बाज़ार से सामान खरीदेगी |
मैं कबड्डी के खेल में जीत कर आऊँगी |
इस बार मैं परीक्षा में प्रथम आई हूँ |
मेरे पापा ने दिवाली में नयी कार खरीदी थी |
मुझे गन्ने का जूस पीना अच्छा लगता है |
V    सृजनात्मक प्रश्न             
1.   दिए गए विषयों पर पाँच वाक्य लिखिए:
पानी के कोई भी पाँच उपयोग, हमारा राष्ट्रीय पशु, तीतर, कोको, गुरु का महत्त्व
2.   चित्र देखकर उसपर पाँच से सात वाक्य लिखे :
  
          IIिस्मत पानी चुनकर लिखो    









VI  वर्तनी
भुक्खड़ - अनबूझ प्रार्थना - वर्गाकार परीक्षा स्वादिष्ट गफ़लत अधीक्षक ऊलजलूल – प्रबंधक - शुक्रिया – खुशबूदार – चक्रवर्ती – न्यौता – शुक्रिया – अध्यापक – सुरक्षित – फार्म हाउस – सीढ़ीनुमा – आस्तीन – पगडंडी – खपरैल – कीटनाशक – भूगोल – मोहल्ला – गुल्लक – प्रकृति – राजधानी – समृद्ध – जलस्त्रोत – आषाढ़ – उत्सव - कोलाहल – अमराई – दृष्टि – वनस्पति – चुनौती – बर्फ़ीली – निर्गम – उत्साहित – आकर्षित – धूँधलका – ग्लेशियर – तश्तरी – फुँसियाँ – रौबदार – हरिश्चंद्र – सिंहासन – ज़ख्मी – छलाँग

शब्दों के शुद्ध रूप लिखिए बिरानी महूरत छन डार-डार बाम्हन समरथन धारमिक उतसाह  एलायची  वरगाकार



No comments:

Post a Comment

AUTUMN BREAK HOLIDAY HOME WORK CLASS I TO V

HAPPY NAVRATRI AND   DUSHERA AUTUMN BREAK HOME – WORK SUBJECT- MATHEMATICS CLASS I ABC ·         Learn numbers from 1-100 . Forwar...